eMandi UP Login, Emandi.Up.Gov.In प्री अराइवल स्लिप?

Moni

ई मंडी यूपी पोर्टल, ईमंडी यूपी प्री अराइवल स्लिप, यूपी ई मंडी पोर्टल – केंद्र सरकार द्वारा देश के किसानों के लिए विभिन्न लाभ योजनाओं की शुरुआत की गई है। इसी दिशा में हाल ही में उत्तर प्रदेश राज्य सरकार ने ई मंडी पोर्टल की शुरुआत की है, जो एक एकल अनुवाद पोर्टल है। ईमंडी यूपी पोर्टल (ईमंडी प्री अराइवल स्लिप) के माध्यम से किसानो एवं आदिवासियों को मंडी से संबंधित विभिन्न जानकारी एवं सहायता एक ही स्थान पर प्रदान की जाएगी। राज्य सरकार के Emandi.Upsdc.Gov.In पोर्टल की सहायता से किसान एवं व्यापार, मंडी के रेट की जानकारी घर बैठे प्राप्त की जा सकती है। आज हम आपको इस लेख के माध्यम से इस पोर्टल से संबंधित आवश्यक जानकारी प्रदान करेंगे, जैसे:- उद्देश्य, लाभ, विशेषता, आवेदन करने की प्रक्रिया, इमांडी यूपी आगमन पूर्व पर्ची आदि के बारे में आइये बताये.

ई मंडी अप पोर्टल क्या है?

यूपी ईमांडी यूपी पोर्टल पंजीकरण – उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ जी के द्वारा प्रदेश के किसानों एवं व्यवसायियों की सुविधा हेतु ई मंडी ऊपर की शुरुआत की गयी है. इस पोर्टल के माध्यम से किसानो और मंडी के बीच का समूह बनाया गया है, जिससे अनाज और अन्य कृषि उत्पादकों की खरीद-फरोख्त में दोनों तरफ को लाभ हो सकता है। राज्य कृषि उत्पादन मंडी परिषद द्वारा जारी ई-मंडी पोर्टल के अंतर्गत किसान एवं व्यापारी मंडियों से संबंधित आवश्यक जानकारी घर बैठे आसानी से प्राप्त कर सकते हैं। व्यापारी इस पोर्टल के माध्यम से अपना ई-लाइसेंस भी बनवा सकते हैं और साथ ही अपने पुराने लाइसेंस का नवीनीकरण भी करा सकते हैं। ई मंडी अप पोर्टल (आगमन पूर्व पर्ची) इस पोर्टल पर उपलब्ध विभिन्न जानकारी एवं सेवाओं को प्राप्त करने के लिए इस पोर्टल पर अपना पंजीकरण कराना होगा।

ई मंडी उत्तर प्रदेश 2023 की मुख्य विशेषताएं

आर्टिकल का नाम ई मंडी अप पोर्टल
आरंभ किया गया मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा
लाभार्थी राज्य के किसान एवं व्यापार
उद्देश्य मंडी से संबंधित सभी सेवाएं ऑनलाइन उपलब्ध हैं
श्रेणी उत्तर प्रदेश सरकारी विभाग
वर्ष 2023
राज्य उत्तर प्रदेश
आवेदन प्रक्रिया ऑफ़लाइन
अधिकारिक वेबसाइट यहाँ क्लिक करें

ई मंडी यूपी का उद्देश्य

ई मंडी यूपी पोर्टल लॉन्च करने का मुख्य उद्देश्य उत्तर प्रदेश के किसानों को ई-मंडी से संबंधित सभी सेवाएं ऑनलाइन उपलब्ध कराना है। और किसान एवं कृषि को एक ही मंच पर लाना है ताकि उनके बीच ताल-मेल बढ़ सके। और उनसे संबंधित सेवाओं के लिए किसी भी समस्या का सामना ना करना पड़े।

ई मंडी यूपी पोर्टल (आगमन पूर्व पर्ची) के माध्यम से किसान अपने अनाज एवं अन्य कृषि उत्पादों की कीमत आसानी से बेच सकते हैं। इसके अलावा इस पोर्टल के माध्यम से किसान के उत्पाद से संबंधित जानकारी एवं खरीद के बारे में भी जानकारी प्राप्त की जा सकती है। यह पोर्टल एक एकल पीडीएफ़ पोर्टल है जिसके माध्यम से मंडी से जुड़ी सभी पुस्तकें एवं जानकारी एक ही स्थान पर प्राप्त की जा सकती हैं। उत्तर प्रदेश के किसान एवं व्यापारी मंडी जाएं बिना ई मंडी पोर्टल के माध्यम से घर बैठे आसानी से सभी जानकारी एवं सेवाओं का लाभ प्राप्त कर सकते हैं। और ऑनलाइन सेवा के आधार पर आस्था की बचत होगी।

ई मंडी अप पोर्टल पर संचालित तकनीकी सहयोग

इमांडी यूपी प्री अराइवल स्लिप – उत्तर प्रदेश राज्य सरकार द्वारा ई मंडी पोर्टल फीचर्स को बेहतर बनाने के लिए पोर्टल पर कुछ नए तकनीकी अपडेट दिए गए हैं। पोर्टल पर दिए गए तकनिकी बदलावों के कारण ग्रेड को अब अपने मोबाइल एवं ओपीटीपी की सहायता से पुनः पंजीकरण करना होगा। अब यूजर पोर्टल पर लॉगिन करने से पहले अपने मोबाइल नंबर से वेरिफाई करना जरूरी है, जिसके बाद यूजर पोर्टल पर लॉगिन कर सकते हैं।

ई मंडी यूपी पोर्टल 2023 का लाभ

  • उत्तर प्रदेश राज्य कृषि उत्पादन मंडी परिषद उत्तर प्रदेश को किसानों एवं बागानों को मंडी तक पहुंचाने वाली सेवाएं डिजिटल प्रक्रिया के माध्यम से उपलब्ध कराने का सुझाव दिया गया है।
  • ई मंडी पोर्टल के माध्यम से किसान एवं व्यापार, मंडी से संबंधित सभी जानकारी घर बैठे आसानी से प्राप्त कर सकते हैं।
  • व्यापारी एवं किसान ई मंडी यूपी पोर्टल के माध्यम से अपना नया लाइसेंस घर बैठे प्राप्त कर सकते हैं। एवं साथ ही आप अपने पुराने लाइसेंस का माप भी कर सकते हैं।
  • डिजिटल मंडी सुविधा केंद्र में डिजिटल मंडी सुविधा केंद्र भी विकसित किये जा रहे हैं। इन डिजिटल मंडी सुविधा केंद्र के माध्यम से फोटोग्राफर इंटरनेट एवं कंप्यूटर का उपयोग कर बनाया गया।
  • अन्य राज्य से संबंधित उत्पाद के लिए किसानों के लिए अलग-अलग प्रविष्टियों की प्रस्तुति की व्यवस्था बनाई गई है।
  • मिल फैक्ट्री को ई मंडी उत्तर प्रदेश के माध्यम से अपने स्टॉक को सर्च में शामिल करने की सुविधा भी दी गई है।
  • इस पोर्टल के माध्यम से व्यवसायों ऑफ़लाइन मंडी शुल्क और विकास शेष का भुगतान परियोजना के अगले चरण में कर देना होगा।
  • अपवंचन पर रोक लगाने के लिए व्यवस्था की व्यवस्था की गई है। जैसे- अंडररेट बिलिंग को लाभ, खरीद से स्थापित स्टॉक से अधिक मात्रा में जारी नहीं करना और द्वितीयक अवाक के स्टॉक के लिए सत्यापन की आवश्यक व्यवस्था की जाती है।

यूपी ई मंडी पोर्टल पोर्टल की विशेषताएं

  • इमांडी यूपी पोर्टल (आगमन पूर्व पर्ची) किसानों को मंडी से संबंधित किसी भी प्रकार की समस्या न हो इसके लिए प्रवेश द्वार पर कंप्यूटराइज़ेशन स्केच की व्यवस्था उपलब्ध है।
  • व्यापार के नागरिकों के लिए इस पोर्टल पर ऑनलाइन लाइसेंस की सुविधा प्रदान की गई है।
  • इस सुविधा के माध्यम से कोई भी व्यक्तिगत फर्म मंडी के लाइसेंस के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकता है।
  • आवेदनों को ऑनलाइन प्राप्त कर मंडी समिति द्वारा परीक्षण कर डिजिटल लाइसेंस यानी ई-लाइसेंस जारी किया जाता है।
  • ई लाइसेंस (डिजिटल लाइसेंस) व्यवसाय पर प्राप्त होने वाले किसी भी 6 ऑफ़लाइन फ़ॉर्मेट को विक्रीत किया गया और 9 फ़ॉर्म को ऑनलाइन जारी किया गया।
  • मंडी पोर्टल पर इन वेबसाइटों पर ऑनलाइन जारी करने की सुविधा दी गई है।
  • इसके अलावा ऐप्लीकेशन के लिए गेटपास पर भी ऑनलाइन आवेदन करने की सुविधा दी गई है।
  • सभी यात्रियों को इस व्यवस्था से सुविधा मिलती है जो गेटपास के लिए दूर दराज के मंडी स्थानों पर आते हैं।

Emandi.Upsdc.Gov.In पोर्टल पर पंजीकरण करने की प्रक्रिया |UP Emandi UP पोर्टल पंजीकरण

  • सबसे पहले आपको यूपी ई मार्केट पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। अब आपकी सामने वेबसाइट का होमपेज खुल कर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होमपेज आपको बिजनेस के विकल्प पर क्लिक करना होगा। इसके बाद आपको साइन अप के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपका सामने एक नया पेज चित्रित हो कर आ जायेगा। आपको इस पेज पर नए पेज पर सभी आवश्यक जानकारी का विवरण दर्ज करना होगा।
  • इसके बाद आपको साइन अप के विकल्प पर क्लिक करना होगा, जिसके बाद आपका रजिस्ट्रेशन होगा।

ई मंडी अप पोर्टल पर लॉगिन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको राज्य कृषि उत्पादन मंडी परिषद उत्तर प्रदेश ई मंडी की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • जिसके बाद आपकी वेबसाइट का होम पेज खुलेगा।
  • होम पेज पर आपको लोग इसमें शामिल होने वाले स्थान दिखाई देंगे।
  • आपको उस पर क्लिक करना होगा।
  • आपके सामने लॉगइन पेज खुलने पर क्लिक करें।
  • अब आपको लॉगइन पेज में स्वीकृत जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • आपको इस पेज पर डेवलपर नाम/ईमेल, पासवर्ड एवं कपचा कोड दर्ज करना होगा.
  • जानकारी दर्ज करने के बाद आपको लॉग इन के पद पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आपकी ई मंडी पोर्टल लॉगइन करने की प्रक्रिया पूरी होगी।

यूपी इमंडी यूपी पोर्टल -आवेदन की स्थिति जानने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको राज्य कृषि उपज मंडी परिषद उत्तर प्रदेश ई मंडी (इमंडी प्री अराइवल स्लिप) की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके बाद आपकी वेबसाइट सामने आएगी होम पेज खुल जाएगा।
  • होम पेज पर आपको आवेदन की स्थिति के बारे में बताएं वसीयत पर क्लिक करना होगा.
  • आपके सामने एक नया पेज खुलने पर क्लिक करें।
  • इस पेज पर आपको आवेदन संख्या दर्ज करनी होगी।
  • इसके बाद आपको कपचा कोड दर्ज करना होगा.
  • अब आपको स्थिति देखने के लिए स्थान पर क्लिक करना होगा।
  • स्थिति देखने के लिए सबसे पहले अपने आवेदन की स्थिति जानने के लिए क्लिक करें और आवेदन से संबंधित सभी जानकारी देखें।
  • इस प्रकार आपकी यूपी ईमांडी यूपी पोर्टल पंजीकरण/आवेदन देखने की स्थिति की प्रक्रिया पूरी होगी।

Emandi.Upsdc.Gov.In पोर्टल बिजनेस लाइसेंस का नवीनीकरण करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको ई मंडी पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। अब आपकी सामने वेबसाइट का होमपेज खुल कर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको बिजनेस के विकल्प पर क्लिक करना होगा। इसके बाद आपको नये विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपका सामने एक नया पेज चित्रित हो कर आ जायेगा। आपको इस नए पेज पर अपना लाइसेंस नंबर और कैप्चा कोड का विवरण दर्ज करना होगा।
  • इसके बाद आपको विकल्प देखने पर क्लिक करना होगा। अब आपकी स्क्रीन पर आपके पुराने लाइसेंस से संबंधित सभी जानकारी चित्रित की जाएगी।
  • अब आपको लाइसेंस नवीनकरण से संबंधित सभी आवश्यक आवेदकों का विवरण दर्ज करना होगा। इसके बाद आपको सबमिट विकल्प पर क्लिक करना होगा।

लाइसेंस सत्यापन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको. कृषि उत्पादन मण्डी परिषद उत्तर प्रदेश ई मण्डी की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके बाद आपकी वेबसाइट का होम पेज खुलेगा।
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको लाइसेंस सत्यापन के लिए स्थान पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा।
  • इस पेज पर आपको पूछी गई जानकारी जैसे- लाइसेंस नंबर, कैप्चा कोड आदि दर्ज करना होगा।
  • अब आपको के प्लेसमेंट पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप ई मंडी यू पी पोर्टल लाइसेंस से सत्यापन कर सकते हैं।

मित्र/शिकायत दर्ज करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको ई मंडी पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। अब आपकी सामने वेबसाइट का होमपेज खुल कर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको मेन्यू में देखें मित्र/शिकायत दर्ज के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपका एक नया पेज सामने आ जाएगा।
  • अब आपको इस नए पेज पर सभी आवश्यक जानकारी दी गई है, जैसे:- नाम, मोबाइल नंबर, मंडी की जानकारी, व्यवसाय/शिकायत आदि के विवरण दर्ज करें।
  • इसके बाद आपको सबमिट करें के विकल्प पर क्लिक करें, जिसके बाद आप अपनी शिकायत/शिकायत दर्ज करा सकते हैं।

संपर्क जानकारी

  • व्यवसाय विकास:- 18001804555, 155241
  • मंडी समिति
  • मोबाइल/व्हाट्सएप नंबर:- 8765958629
  • पता:- किसान मण्डी भवन, विभूति खण्ड अध्ययननगर, लखनऊ, उत्तर प्रदेश

ध्यान दें :- ऐसे ही केंद्र सरकार और राज्य सरकार द्वारा शुरू की गई नई या सरकारी मंजूरी की जानकारी हम सबसे पहले इस वेबसाइट पर देखें Sarkariyojnaa.Com के माध्यम से दिए गए हैं तो आप हमारी वेबसाइट को फॉलो करना ना भूलें।

अगर आपको यह लेख पसंद आया है तो इसे करें पसंद और शेयर करना अवश्य करें।

इस लेख को अंत तक पढ़ने के लिए धन्यवाद…

अमर गुप्ता द्वारा पोस्ट किया गया

ई मंडी अप लॉगिन (एफएक्यू)?

यूपी ई-मंडी पोर्टल का पूरा मालिक कौन है?

यूपी ई-मंडी पोर्टल राज्य कृषि उपजी बाजार बोर्ड, उत्तर प्रदेश के कार्यालय में उपलब्ध है।

मर्चेंट पासपोर्ट फॉर्म 6, फॉर्म 9 इश्यू लिंक की जांच कैसे करें?

दिए गए चरण का पालन करें-
पहले लाइसेंस की जांच
अब लाइसेंस में मंडी समिति ईमेल के साथ
मंडी लाइसेंस का उद्देश्य जांच

ई-मंडी पोर्टल पर ऑनलाइन गेटपास कैसे प्राप्त करें?

एक बार के व्यापारियों के लिए ऑनलाइन आवेदन कर के माध्यम से ऑनलाइन आवेदन प्राप्त किया जा सकता है।

ई-मंडी पोर्टल पर पुराने स्टॉक की कीमत कैसे रखी जा सकती है?

(i) बिजनेस ई-मंडी पुराने प्राथमिक स्टॉक के प्राइवेट फॉर्म 6 जारी कर सकती है
।। (मंडी समिति द्वारा जारी किया गया)
(iii) बहार स्टॉक को पुरानी स्थिति में दर्ज करने के लिए बाहरी प्रवेश पुस्तिका जारी करना (व्यापारी द्वारा जाना जाता है)

यूपी ई-मंडी फॉर्म 6 कब जारी होता है?

फॉर्म ओनली इनवेस्टमेंट होल्डिंग्स के लिए जारी किया जाता है।

यूपी इमदादी फॉर्म 9 कब जारी होता है?

यूनिसेक्स रजिस्ट्रेशन के लिए फॉर्म 9 जारी किया गया है।

ई-मंडी पोर्टल पर व्यापारियों के लॉगिन के लिए आवश्यक विवरण क्या हैं?

एक व्यवसाय को लॉगिन के लिए पंजीकृत ईमेल, पासवर्ड और कैप्चा कोड दर्ज करना होगा।

नए लाइसेंस आवेदन के लिए मुझे कितना फॉर्म भरना होगा?

आपको तीन फॉर्म जमा होंगे। ई-मंडी पोर्टल के माध्यम से नए लाइसेंस के लिए आवेदन जमा करने का समय फॉर्म ए (आवेदन सूचना), फॉर्म बी (संलग्नक/दस्तावेज अपलोड) और फॉर्म सी (आवेदन भुगतान) है।

लाइसेंस के लिए आवेदन पत्र या आवेदन प्रक्रिया को पूरा करने के लिए मुख्य समय क्या है?

आपके पास के लिए फॉर्म फॉर्म जमा करने की अवधि अधिकतम 14 दिन है। 14 दिन बाद आपको ऑनलाइन आवेदन पत्र भरना शुरू करना होगा।

मैंने फॉर्म ए भरा है लेकिन आवेदन फॉर्म पूरा नहीं कर सका। बाकी फॉर्म कैसे भर सकते हैं?

आवेदन प्रक्रिया को निर्धारित तिथि के अंदर पूरा करने के लिए आपको पोर्टल पर आवेदन स्थिति विकल्प पर जाना होगा।

यूपी इमंडी ई-लाइसेंस एप्लिकेशन शुल्क का भुगतान कैसे करें?

लाइसेंस के लिए आवेदन शुल्क का भुगतान ई-मंडी के माध्यम से ऑनलाइन मोड में किया जा सकता है।

बाहरी प्रवेश पत्र क्या है?

बाहरी पुरालेख पुस्तिका टैबरिलीज की जाती है जब राज्य के बाहर इन्वेंटरी दर्ज की जाती है।

ईमांडी के संबंध में किसी भी प्रश्न के मामले में किससे संपर्क करें?

ई-मंडी से संबंधित किसी भी प्रश्न के मामले में संबंधित मंडी से संबंधित व्यक्ति से संपर्क किया जा सकता है। मंडी समिति संपर्क विवरण के लिए यहां क्लिक करें।

Leave a Comment