[2021]Operating System in Hindi – Operating System के प्रकार

0
348
Operating System In Hindi
Operating System In Hindi

operating system in hindi | types of operating system in hindi | ऑपरेटिंग सिस्टम क्या है? | ऑपरेटिंग सिस्टम के प्रकार | Operating System kaise kaam karta hai | Operating System के प्रकार | Characteristics of Operating System In Hindi | Operating System के कार्य | Advantage of Operating System in Hindi | ऑपरेटिंग सिस्टम के लाभ | Disadvantage of Operating System in Hindi | ऑपरेटिंग सिस्टम की हानिया

नमस्कार दोस्तों, एक बार फिर से आपका स्वागत है इस आर्टिकल Operating System in Hindi में | इसमें हम Operating System की पूरी जानकारी हिंदी में आपके साथ शेयर करेगे।

कंप्यूटर को अपने काम सुचारू रूप से करने के लिए बहुत सरे सॉफ्टवेयर तथा हार्डवेयर डिवाइस की आवश्यकता होती है इन डिवाइस तथा प्रोग्राम्स को मैनेज करने के लिए भी एक और विशेष प्रोग्राम की आवश्यकता होती है और इस विशेष प्रोग्राम को operating system के नाम से भी जाना जाता है।

जो की कंप्यूटर सिस्टम में जान फुकने का काम करता है इसके बिना Computer एक बॉक्स के अलावा और कुछ नहीं है इसलिए ये बहुत जरुरी हो जाता है की आखिर operating system kya hai और What is operating system in hindi. तो आज इस आर्टिकल में हम आपको operating system के बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारी देने वाले है तो चलिए शुरू करते है:-

What is operating system in hindi – ऑपरेटिंग सिस्टम क्या है?

Operating system in hindi

जैसा की हम सभी जानते है Computer सिर्फ Binary language को समझता है और उसी भाषा में इनपुट लेता है तथा आउटपुट देता है लेकिन हम binary language नहीं जानते है इसलिए हम जब भी कंप्यूटर को कोई कमांड देते है तो हम या तो इंग्लिश या हिंदी या किसी और भाषा में देते है लेकिन फिर भी कंप्यूटर हमारे द्वारा दी गयी कमांड को समझ लेता है और हमारे द्वारा दिए गए इनपुट को प्रोसेस कर के हमें उसी language में आउटपुट दे देता है।

तो अब सवाल ये आता है की आखिर कंप्यूटर हमारे द्वारा दी गयी कमांड को कैसे समझता है? तो इसके लिए ऑपरेटिंग सिस्टम की आवश्यकता पड़ती है जो हमारे द्वारा दी गयी इंग्लिश या हिंदी language कमांड को Binary language में बदलता है और कंप्यूटर तक पहुचाता है और कंप्यूटर द्वारा दिए गए binary language रिजल्ट को वापस हमारी language में बदल कर हम तक पहुचाता है।

ऑपरेटिंग सिस्टम क्या है?

Operating system एक system software है जिसको short में OS के नाम से भी जाना जाता है Operating System एक Programs का सेट होता है अर्थात इसके अंदर बहुत सरे प्रोग्राम्स होते है हम जब भी कंप्यूटर को कोई निर्देश देते है तो कंप्यूटर इन्ही प्रोग्राम्स की मदद से उस निर्देश को पूरा करता है ऑपरेटिंग सिस्टम कंप्यूटर का Main Software होता है जो दुसरे सभी सॉफ्टवेयर को चलाता है जैसे MS Office, VLC, Chrome, PhotoShop आदि सभी सॉफ्टवेयर को चलाता है।

Operating System का Main कार्य कीबोर्ड, माउस, माइक्रोसॉफ्ट आदि से इनपुट लेता है और उसे कंप्यूटर तक पहुचता है और कंप्यूटर द्वारा प्रोसेस्ड डेटा को यूजर language में बदल कर वापस यूजर तक पहुचाता हैं operating system का मुख्य काम Computer user और Computer Hardware के बिच कम्युनिकेशन कराना होता है अगर सिम्पल language में कहा जाये तो यूजर की बात को कंप्यूटर को समझाता है और कंप्यूटर की बात को यूजर को समझाता है इस तरह दोनों के बिच कम्युनिकेशन करवाने का काम करता है।

इसके अलावा Operating system यूजर को GUI Interface देता है GUI का full Form Graphical User Interface होता है अर्थात ग्राफ़िक के रूप में यूजर को इंटरफ़ेस देता है जिससे यूजर के लिए कंप्यूटर का उपयोग करना काफी सरल होजाता है क्यों की Graphical User Interface में सारे आप्शन Menus, Icon और Buttons के फॉर्म में होते है जिससे आपको कोई भी कमांड देने के लिए कोडिंग करने की जरूरत नहीं होती है बल्कि आप बटन और मेनू को क्लिक कर के आसानी से कमांड दे सकते हो।

Operating System (OS) एक सॉफ्टवेयर होता है जो कंप्यूटर तथा यूज़र के बिच interface की तरह कार्य करता है। इसे system software भी कहते है

Operating System kaise kaam karta hai

दोस्तों ये तो हमने समझ लिया की ऑपरेटिंग सिस्टम क्या है? लेकिन अब सवाल यह आता है की आखिर ये Operating System kaise kaam karta hai तो वैसे तो आपको समझ आ ही गया होगा लेकिन फिर भी चलिए अब एक उदाहरण के द्वारा सझने की कोशिश करते है की ऑपरेटिंग सिस्टम काम कैसे करता है तो दोस्तों मान लिजिए की आपको अपने कंप्यूटर में कोई song चलाना है तो आप माउस द्वारा उस song पर डबल क्लिक करेगे तो जैसे ही आप माउस से उस song पर डबल क्लिक करेगे ऑपरेटिंग सिस्टम माउस से इनपुट प्राप्त करेगा और तुरंत हार्डवेयर के साथ कनेक्शन स्थापित करेगा।

अर्थात उस song को प्ले होने के लिए जिस जिस हार्डवेयर या सॉफ्टवेयर की जरूरत पड़ेगी उन सभी को उपलब्ध करवाएगा जैसे की Media Player, Specker, Controller आदि इस तरह से आपने जो song प्ले किया है वह song आपके कंप्यूटर system पर चल जाएगा ऐसा कहा जा सकता है की Operating System सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर को मैनेज करता है और कंप्यूटर को सुचारू रूप से चलने में मदद करता है।

Monitor क्या है Monitor Full Form In Hindi और मॉनिटर कितने प्रकार के होते हैं

Operating System के प्रकार – Types of Operating System In Hindi

उपयोग के आधार पर, टास्क के आधार पर, डाटा प्रोसेसिंग के आधार पर Operating System कई अलग अलग प्रकार के होते है तो आइये जानते है कुछ मुख्य Operating System के प्रकारों के बारे में :-

Batch Processing operating System[BPOS]

BPOS का उपयोग ऐसी जगह किया जाता है जह कम समय में अधिक डाटा प्रोसेस करना होता है क्यों की यह डाटा को Batch के रूप में प्रोसेस करता है अर्थात इसमें सभी एक जैसे Data का एक Batch(बंडल) के रूप में Execute किया जाता है और यह पूरी प्रोसेस automatic होती है।

BPOS यूजर अपने कंप्यूटर से सीधे सम्पर्क नहीं करता है बल्कि Offline काम कर के जब काम पूरा होजाता है तो कंप्यूटर ऑपरेटर के पास भेज देता है उसके बाद कंप्यूटर ऑपरेशन सभी similar data के batch बनाता है और उन्हें groups में execute करता है।

Time Sharing Operating System

इस ऑपरेटिंग सिस्टम में एक समय में मल्टीपल यूजर मल्टीपल टास्क कर सकते है अर्थात एक साथ एक से ज्यादा यूजर एक से ज्यादा कम कर सकते है इसलिए इसे Multitasking Operating System भी कहा जाता है इसमें सभी यूजर एक ही system का इस्तेमाल करते है लेकिन सभी टास्क को एक निश्चित टाइम दिया जाता है इसलिए सभी यूजर्स को बराबर टाइम मिलता है सरल भाषा में कहा जाये तो इसमें CPU टाइम को सभी यूजर्स के बीचे बाट दिया जाता है और सभी टास्क को बराबर टाइम दिया जाता है।

Distributed Operaring System

Distributed Operaring System में बहुत सारे System होते है जो एक नेटवर्क के रोप में कार्य करते है इसमें सभी Systems एक Shared Communication Network के द्वारा एक दुसरे से जुड़े रहते है और एक साथ मिल कर कार्य करते है और इसमें प्रत्येक system के पास अपना CPU, Primary और Secondary Memory तथा बाकि सभी resources भी होते है इस कारण ये प्रत्येक system individually भी कार्य करने में सक्षम होते है।

Multiprocessing Operating System

जैसा की नाम से ही स्पष्ट है इसमें एक ही Task को एक से अधिक यानि Multipal Processors मिलकर पूरा करते है इसलिए इसे Multiprocessor Operating System भी कहा जाता है ये नार्मल कंप्यूटर यूजर के लिए नहीं होता है क्यों की किसी नार्मल यूजर को इतनी ज्यादा Computing Power की आवश्यकता नहीं होती है इसका इस्तेमाल Supercomputers में किया जाता है।

क्योकि इसकी Computing Power और Speed दोनों बहुत अधिक है और इसके कम करने का तरीका भी बहुत अलग है ये किसी टास्क को कम्पलीट करने के लिए उसको कई सरे Sub Task में बाट देता है और फिर सभी टास्क को अलग अलग CPU द्वारा कम्पलीट करवाता है इस वजह से बहुत कम समय में Task कम्पलीट होजाता है।

Input and Output Device in hindi

Network Operating System

यह एक सर्वर based operating system होता है जिसमे बहुत सारे Computer मिल कर एक नेटवर्क के रूप में काम करते है अर्थात सरे Computer एक private नेटवर्क क्र द्वारा एक दुसरे से आपस में कनेक्ट रहते है और एक ही सर्वर पर सभी काम करते है इसलिए उस सर्वर में उपलब्ध सभी डाटा को सभी computers एक्सेस कर सकते है बस उनके पास अपना लॉग इन Id और Password होना चाइये।

जैसे की आपने देखा होगा बैंक में बहुत सारे कंप्यूटर लगे होते है लेकिन सभी कंप्यूटर एक ही Server से connect होते है इसलिए वे सभी कंप्यूटर उस बैंक के सर्वर का डाटा एक्सेस कर सकते है आपने देखा होगा मेनेजर, केशियर सभी और बैंक के सभी कर्मचारी हमारे अकाउंट को एक्सेस कर सकते है।

Real Time Operating System

रियल टाइम ऑपरेटिंग सिस्टम एक advance ऑपरेटिंग system है जो डाटा को Real Time में Process करता है इसके द्वारा आप बहुत ही कम समय में बहुत ही जल्दी अपना महत्वपूर्ण काम कर सकते हो इसका उपयोग खासकर तब किया जाता है जब कैलकुलेशन बहुत महत्वपूर्ण हो और टाइम बहुत ही कम हो।

Realtime Operating System 2 प्रकार के होते है

  • Hard Real Time Operating System
  • Soft Real Time Operating System
operating system kya hai in hindi
operating system kya hai in hindi

Characteristics of Operating System In Hindi

  1. OS मेमोरी को मैनेज करने का काम करता है और यह प्राइमरी मेमोरी की जानकारी रखता है जब भी कोई प्रोग्राम मेमोरी के लिए request करता है तो उसे मेमोरी allocate करने का कम भी OS का होता है।
  2. यह Processor Management भी करता है अर्थात किसी प्रोग्राम को run होने के लिए CPU Allocate करने के काम भी OS करता है।
  3. सभी Devices की जानकारी भी OS रखता है इसलिए इसे I/O Controller भी कहते है तथा किस प्रोग्राम को कोंसी डिवाइस देना है यह भी OS ही decide करता है।
  4. File Management करने का काम भी OS ही करता है।
  5. कंप्यूटर को किसी प्रोग्राम या डाटा को Unauthorized एक्सेस करने से बचाता है इसलिए इसमें पासवर्ड तथा अन्य security तकनीको का इस्तेमाल किया जाता है।
  6. ये बहुत ही Reliable होता है क्यों की ये सभी वायरस और हानिकारक कोड को पहले ही डिटेक्ट कर लेता है।
  7. OS GUI(Graphical User Interface) देता है इसलिए चलाने में easy होता है।

Operating System के कार्य

अब प्रश्न ये आता है की ऑपरेटिंग सिस्टम के काम क्या है? इसके मुख्य कार्य कौन कौन से है? तो ऑपरेटिंग सिस्टम बहुत सारे कार्य करता है यहाँ तक की पुरे कंप्यूटर को चलाना और मैनेज करना सभी कार्य ऑपरेटिंग system ही करता है इसके कुछ महत्वपूर्ण कार्य निम्न है।

  1. Memory Management
  2. CPU Management
  3. File Management
  4. Device Management
  5. Secure The system
  6. Play Mediators Role
  7. Improve Performance
  8. Graphical User Interface
  9. Error Detection
  10. Job Accounting

Advantage of Operating System in Hindi (ऑपरेटिंग सिस्टम के लाभ)

Operating System के लाभ निम्नलिखित है

  • Operating System में ग्राफिकल यूजर इंटरफ़ेस होता है इसलिए कंप्यूटर को आसानी से इस्तेमाल किया जा सकता है नए यूजर भी इसके द्वारा कंप्यूटर का इस्तेमाल आसानी से कर सकता है।
  • ऑपरेटिंग सिस्टम द्वारा resources को भी शेयर किया जा सकता है।
  • OS को आसानी से update किया जा सकता है।
  • यह सिक्योर भी होता है जैसे windows में windows defender दिया jata है जो हमारे कंप्यूटर को हानिकारक फाइल्स या वायरस से बचाता है।
  • इसके द्वारा हम कोई भी गेम सॉफ्टवेयर को आसानी से install कर के काला सकते है।
  • कुछ ऑपरेटिंग सिस्टम को हम फ्री में भी अपने कंप्यूटर पर run कर सकते है जैसे LINUX।

Disadvantage of Operating System in Hindi (ऑपरेटिंग सिस्टम की हानिया)

  • Windows Operating System की तुलना में Linux OS को चलाना थोडा मुश्किल होता है।
  • कुछ operating system free तो होते है लेकिन उनको चलाना बहुत कठिन होता है और जो Paid होते है वो बहुत महंगे होते है कुछ OS की कीमत लगभग 5000 से 10000 तक होती है।
  • कभी कभी बहुत सारे OS किसी Hardware को सपोर्ट नहीं करते है।
  • MAC Operating System में वायरस लगने का खतरा भी ज्यादा होता है।

Conclusion

तो दोस्तो ये था हमारा आज का article Operating System in Hindi जिसमें हमने आपको Operating System के बारे में पूरी जानकरी दी।

दोस्तों उम्मीद करता हूं कि इस आर्टिकल के माध्यम आपको Operating System in Hindi से जुडी सभी जानकारी समझ आ गयी होगी अगर आपको हमारे इस article से संबंधित कोई भी परेशानी या सुझाव है तो आप बेझिझक हमसे संपर्क कर सकते है या आप इस पोस्ट पर कमेंट भी कर सकते है।

दोस्तों अगर आपको हमारा ये article Operating System in Hindi पसंद आया हो तो इसे दोस्तो के साथ सोशल मीडिया पर शेयर करना ना भूले.

यह भी पढ़े:- Computer/Laptop Me WhatsApp Kaise Chalaye?
Input and Output Device in hindi
Monitor क्या है Monitor Full Form In Hindi और मॉनिटर कितने प्रकार के होते हैं
जीबी व्हाट्सएप कैसे डाउनलोड करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here