राजस्थान ई-सखी 2022 ऑनलाइन: राजस्थानी ई-सखी योजना,आवेदन करें

Moni

राजस्थान ई-सखी ऑनलाइन आवेदन (ऑनलाइन पंजीकरण): जैसा कि मैं आप सभी को बताना चाहता हूं कि डिजिटल युग में राजस्थान सरकार की महिलाओं से जुड़ने के लिए और उनसे पहले डिजिटल रूप में साक्षर राजस्थान सरकार द्वारा अपने राज्य में शामिल होने के लिए ऋण बहुत आवश्यक है राजस्थान ई सखी योजना इस योजना की शुरुआत राजस्थान से हुई है ऍफ़ लाख महिलाओं को डिजिटल रूप में साक्षर करने का प्रशिक्षण दिया जा रहा है और यह प्रशिक्षण सरकार द्वारा निःशुल्क दिया जा रहा है यदि आप भी राजस्थान के हैं निवासी हैं तो आप भी राजस्थान ई-सखी योजना के अंतर्गत आप भी डिजिटल कंप्यूटर प्राप्त करने के लिए यदि आपकी इच्छा हो रही है तो आप अपने मोबाइल में ई सखी मोबाइल ऐप इसे डाउनलोड करके आप भी इसका लाभ उठा सकते हैं और इस ऐप के अंतर्गत आप अपना आवेदन पत्र (ऑनलाइन पंजीकरण) भर सकते हैं तो आइए आज हम आपको अपने इस लेख में इस मोबाइल ऐप के बारे में बताते हैं। इस ऐप के माध्यम से एप्लिकेशन डाउनलोड करें (ई-सखी योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन) आप भी डिजिटल युग से जुड़ सकते हैं तो आइए हमारे इस लेख पर ध्यान दें और इससे जुड़ी सारी जानकारी प्राप्त करें राजस्थान ई सखी योजना का लाभ उठा सकते हैं और आप भी डिजिटल युग से जुड़ सकते हैं और इसका लाभ उठा सकते हैं वह भी मुक्त।।

राजस्थानी ई-सखी योजना 2022

राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे जी ने राज्य की सभी महिलाओं को डिजिटल रूप से साक्षर बनाने के लिए कहा राजस्थान ई सखी योजना की शुरुआत की है और इस योजना के तहत राज्य के ऍफ़ लाख स्वयं सेवकों का नामांकन उन्हें देकर डिजिटल स्थान साक्षर करने के बारे में मुक्त ट्रेनिंग दी जाएगी और ट्रेनिंग प्राप्त करने के बाद महिला को ई सखी फ्री आई सखी गांव और शहर का नाम दिया जाएगा कम से कम 100 महिलाएं डिजिटल सेवा का उपयोग क्यों सिखाया जाएगा राजस्थान ई-सखी योजना का मुख्य लक्ष्य ई सखियाँ इसके अंतर्गत गांव से हर एक घर की कम से कम एक महिला को डिजिटल बाद में दिया जाएगा क्योंकि एक महिला पूरे परिवार को और फिर डिजिटल राजस्थान का सपना साकार हो सकता है।

राजस्थान ई-सखी योजना पर प्रकाश डाला गया

योजना का नाम राजस्थान ई-सखी
की शुरुआत हुई मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरी राजे जी के द्वारा
लाभार्थी राजस्थान की
उद्देश्य डिजिटल डिज़ाइन घर बैठे ही ट्रेनिंग प्रदान करना
प्रशिक्षण शुल्क मुक्त
साल 2022
योजना का प्रकार राजस्थान सरकारी योजना
आवेदन प्रक्रिया ऑफ़लाइन
आधिकारिक वेबसाइट यहाँ क्लिक करें

प्रदेश सरकार द्वारा इस सखियों को आर्थिक सहायता भी दी जायेगी

सरकार राजस्थान ई सखी योजना प्रशिक्षण के अंतर्गत प्रशिक्षण लेने वाली सभी महिलाओं को ₹2500 की आर्थिक सहायता दी जाएगी 2 किस्तों उनके बैंक में ट्रांसफर की जाएगी जिसमें से पहली किस्त शामिल होगी ₹1000 की होगी जो की प्रशिक्षण शुरू हो रहा है पर दिया जाएगा दूसरी किस्त ₹1500 की होगी जिसकी ट्रेनिंग ख़त्म होने के बाद दी जाएगी यह किस्ट देना का मुख्य लक्ष्य है ई सखियाँ के मोबाइल में इंटरनेट ऍम अपने मोबाइल में सभी इस राशि से जुड़ें इंटरनेट का रिचार्ज करवा सकता है।

प्रशिक्षण की अवधि और स्थान का विवरण

मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे जी द्वारा इस योजना के अंतर्गत महिलाओं को किस दिन और किस स्थान पर प्रशिक्षण दिया जाएगा इन सभी बातों की जानकारी आप सभी को हम अपने इस लेख में नीचे दे रहे हैं।

  • प्रशिक्षण का समय 14 घंटे का होगा जो प्रतिदिन 2 घंटे इस प्रकार से या प्रशिक्षण के लिए लेखांकन से दिया जाएगा 7 दिन तक दिया जाएगा।
  • ई सखी योजना के अंतर्गत राजस्थान नॉलेज लैपटॉप लिमिटेड के अंत की यह जीके या आईटीआई ज्ञान पर इसका प्रशिक्षण दिया जाएगा।
  • महिलाओं को प्रशिक्षण देने के लिए किसी भी प्रकार का कोई शुल्क नहीं लिया जाना चाहिए मुक्त दिया जाएगा।

राजस्थान ई-सखी योजना के अंतर्गत डिजिटल प्रशिक्षण कार्यक्रम पाठ्यक्रम

  • भामाशाह योजना
  • भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना
  • सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना
  • ई मित्र योजना
  • ईपीडीएस योजना
  • राजस्थान संपर्क

ई सखी योजना राजस्थान का उद्देश्य

राजस्थान के लगभग सभी लोग डिजिटल युग से जुड़े हुए हैं लेकिन अभी भी प्रदेश के कई शहर और इलाके ग्रामीण इलाकों के हैं महिला राष्ट्रपति डिजिटल युग से जुड़ें नहीं पाई है मुख्य कारण यह है कि उन्हें डिजिटल शिक्षा की जानकारी प्राप्त नहीं हो पाई लेकिन अब राजस्थान ई-सखी योजना डिजिटल युग के तहत सभी महिलाओं को डिजिटल युग से जुड़ने के लिए शिक्षा देना इस योजना का मुख्य उद्देश्य डिजिटल राजस्थान से सपने को साकार करना है और इसके लिए सरकार द्वारा इस योजना का लाभ उठाया जा सकता है। 1.5 लाख महिलाओं को डिजिटल ट्रेनिंग दी जाएगी इसके बाद शहर और गांव के घर-घर की महिलाओं को डिजिटल ट्रेनिंग दी जाएगी लेकिन ई-सखी योजना राजस्थान के अंतर्गत महिला प्रशिक्षण कर सकते हैं जो कम से कम 12वीं कक्षा पास हो।

ई-सखी योजना राजस्थान के लाभ

  • इस योजना के अंतर्गत राजस्थान की 1.5 लाख स्वयंसेविका को डिजिटल सुरक्षा प्रशिक्षण देंगे।
  • इस प्रशिक्षण निर्देश के लिए अतिथि महिला से किसी भी प्रकार का शुल्क लेना आवश्यक नहीं होगा।
  • राजस्थान ई-सखी योजना के अंतर्गत शामिल होने वाले सभी महिलाएं को ई सखी उनके नाम पर पुरस्कार दिया जाएगा और उन्हें सबसे अधिक और पुरस्कार भी दिया जाएगा।
  • सभी ई सखी प्रशिक्षण लेने के बाद राजस्थान के शहर और जिले में घर-घर की महिलाओँ को डिजिटल शिक्षा देवी।
  • इस योजना के अंतर्गत सभी लाभ वाली महिलाएं राजस्थान राज्य की दोनों महिलाओं को मिल सकती हैं क्योंकि इस योजना के अंतर्गत महिलाओं को डिजिटल रूप से साक्षर बनाया गया है राजस्थान डिजिटल बनाएगी।

राजस्थान ई सखी योजना के पात्र और लाभार्थी

प्रदेश की कुछ महिलाएं और महिलाएं इस योजना के अंतर्गत शामिल होकर डिजिटल प्रशिक्षण प्राप्त करना चाहती हैं और उन्हें नीचे दिए गए पात्र लाभार्थियों को पूरा करना होगा।

  • राजस्थान की आवेदिका अन्य निवासी होना चाहिए।
  • 18 वर्ष से लेकर 35 वर्ष इस योजना के तहत सभी लोग आवेदन कर सकते हैं।
  • महिला के पास भामाशाह होना चाहिए.
  • अवेदिका कम से कम 12वीं कक्षा पास होना चाहिए।
  • जो महिला सामाजिक कार्यक्रम में भागीदारी के लिए आवेदन करती है वह भी इस योजना के तहत आवेदन कर सकती है।

राजस्थान ई-सखी योजना के लिए दस्तावेज़ की आवश्यकता है

  • भामाशाह कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • बारहवीं कक्षा का प्रमाण पत्र
  • ईमेल
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट आकार फोटो

राजस्थान ई सखी योजना के तहत आवेदन (ई-सखी योजना ऑनलाइन पंजीकरण) कैसे करें?

  • इस योजना में नामांकन (ई-सखी योजना ऑनलाइन पंजीकरण) करने के लिए आपको एक परीक्षा में शामिल होना होगा जो एक ओपन निरंतर निरपेक्ष परीक्षा है।
  • सबसे पहले आपको अपना मोबाइल नंबर मिलेगा ई सखी मोबाइल ऐप इसे डाउनलोड करना होगा और उसके बाद इसे ओपन करना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने इस ऐप का होम पेज खुल कर आएगा।
  • इस होम पेज पर आपको ई सखी बनाने के लिए क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही आप इस डेटाबेस पर क्लिक करेंगे आपके सामने एक नई ज़ुबानी किताब सामने आएगी राजस्थान ई सखी योजना के नामांकन के अंतर्गत याआवेदन कर सकते हैं।
  • अगर आपके पास एसएसओ पहचान नहीं है तो आप टैग पर क्लिक करें और एसएसओ पहचान के लिए नामांकन (सखी योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन) करा सकती हैं|
  • भामाशाह या आधार कार्ड या फ़ेसबुक या जीमेल आईडीईए की सहायता से आप पंजीकृत पंजीकरण कर सकते हैं।

राजस्थान ई-सखी मोबाइल ऐप कैसे डाउनलोड करें

  • सबसे पहले आप अपने मोबाइल फोन के गूगल के प्ले स्टोर पर जाएं।
  • इसके बाद आपको गूगल प्ले स्टोर के लिए राजस्थानी सखी मोबाइल ऐप टाइप करके सर्च करना है।
  • अब आपके सामने एक फ्रैंक सूची सूची है जिसमें आपको सबसे ऊपर वाले सखी मोबाइल ऐप पर क्लिक करना है।
  • इसके बाद आपको असैन्य के पद पर भर्ती के लिए क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही आप साझीदार के पद पर आसीन हों तो अपने ऑनलाइन ई सखी मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें।
  • इस प्रकार से आप राजस्थान ई सखी मोबाइल ऐप डाउनलोड कर सकते हैं।

ध्यान दें :- ऐसे ही केंद्र सरकार और राज्य सरकार द्वारा शुरू की गई नई या सरकारी मंजूरी की जानकारी हम सबसे पहले इस वेबसाइट पर देखें sarkaryojana.com के माध्यम से दिए गए हैं तो आप हमारी वेबसाइट को फॉलो करना ना भूलें।

अगर आपको यह लेख पसंद आया है तो इसे करें पसंद और शेयर करना अवश्य करें।

इस लेख को अंत तक पढ़ने के लिए धन्यवाद…

अमर गुप्ता द्वारा पोस्ट किया गया

FAQ राजस्थानी ई-सखी योजना 2022

राजस्थानी ई-सखी योजना 2022 क्या है?

राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे जी ने राज्य की सभी महिलाओं को डिजिटल रूप से साक्षर बनाने के लिए कहा राजस्थान ई सखी योजना की शुरुआत की है और इस योजना के तहत राज्य के ऍफ़ लाख स्वयं सेवकों का नामांकन उन्हें देकर डिजिटल स्थान साक्षर करने के बारे में मुक्त ट्रेनिंग दी जाएगी और ट्रेनिंग प्राप्त करने के बाद महिला को ई सखी फ्री आई सखी गांव और शहर का नाम दिया जाएगा कम से कम 100 महिलाएं डिजिटल सेवा का उपयोग क्यों सिखाया जाएगा राजस्थान ई-सखी योजना का मुख्य लक्ष्य ई सखियाँ इसके अंतर्गत गांव से हर एक घर की कम से कम एक महिला को डिजिटल बाद में दिया जाएगा क्योंकि एक महिला पूरे परिवार को और फिर डिजिटल राजस्थान का सपना साकार हो सकता है।

ई सखी योजना राजस्थान का उद्देश्य क्या है?

राजस्थान के लगभग सभी लोग डिजिटल युग से जुड़े हुए हैं लेकिन अभी भी प्रदेश के कई शहर और इलाके ग्रामीण इलाकों के हैं महिला राष्ट्रपति कलयुग से जुड़ें नहीं पाई है मुख्य कारण यह है कि उन्हें डिजिटल शिक्षा की जानकारी प्राप्त नहीं हो पाई लेकिन अब राजस्थान ई-सखी योजना डिजिटल युग के तहत सभी महिलाओं को डिजिटल युग से जुड़ने के लिए शिक्षा देना इस योजना का मुख्य उद्देश्य डिजिटल राजस्थान से सपने को साकार करना है और इसके लिए सरकार द्वारा इस योजना का लाभ उठाया जा सकता है। 1.5 लाख महिलाओं को डिजिटल ट्रेनिंग दी जाएगी इसके बाद शहर और गांव के घर-घर की महिलाओं को शिक्षा दी जाएगी लेकिन ई सखी योजना राजस्थान के तहत महिला ट्रेनिंग कर सकती है जो कम से कम 12वीं कक्षा पास हो।

राजस्थान ई-सखी योजना आवश्यक दस्तावेज क्या-क्या लगेगा ?

भामाशाह कार्ड
निवास प्रमाण पत्र
बारहवीं कक्षा का प्रमाण पत्र
ईमेल
मोबाइल नंबर
पासपोर्ट आकार फोटो

राजस्थान ई सखी योजना के अंतर्गत आवेदन कैसे करें?

इस योजना में नामांकन करने के लिए आपको एक परीक्षा में शामिल होना होगा जो एक खुला निरंतर समतुल्य परीक्षा है।
सबसे पहले आपको अपने मोबाइल नंबर में ई सखी मोबाइल ऐप डाउनलोड करना होगा और उसके बाद उसे ओपन करना होगा।
इसके बाद आपके सामने इस ऐप का होम पेज खुल कर आएगा।
इस होम पेज पर आपको ई सखी बनाने के लिए क्लिक करना होगा।
जैसे ही आप इस पोर्टफोलियो पर क्लिक करेंगे तो आप अपने सामने एक नया पीडीएफ खोल सकते हैं, जिस पर आप अपनी राजस्थान ई सखी योजना के तहत नामांकन या आवेदन कर सकते हैं।
यदि आपके पास एसएसओ की पहचान नहीं है तो आप टैग पर क्लिक करें और एसएसओ की पहचान के लिए नामांकन कर सकते हैं|
भामाशाह या आधार कार्ड या फ़ेसबुक या जीमेल आईडीईए की सहायता से आप पंजीकृत पंजीकरण कर सकते हैं।

ई-सखी योजना राजस्थान का लाभ क्या है?

इस योजना के अंतर्गत राजस्थान की 1.5 लाख स्वयंसेविका को डिजिटल सुरक्षा प्रशिक्षण देंगे।
इस प्रशिक्षण निर्देश के लिए अतिथि महिला से किसी भी प्रकार का शुल्क लेना आवश्यक नहीं होगा।
राजस्थान ई सखी योजना के अंतर्गत शामिल होने वाले सभी महिलाएं को ई सखी उनके नाम पर पुरस्कार दिया जाएगा और उन्हें सबसे अधिक और पुरस्कार भी दिया जाएगा।
सभी ई सखी प्रशिक्षण लेने के बाद राजस्थान के शहर और जिले में घर-घर की महिलाओँ को डिजिटल शिक्षा देवी।
इस योजना के अंतर्गत सभी लाभ वाली महिलाएं राजस्थान राज्य की दोनों महिलाओं को मिल सकती हैं क्योंकि इस योजना के अंतर्गत महिलाओं को डिजिटल रूप से साक्षर बनाया गया है राजस्थान डिजिटल बनाएगी।

Leave a Comment